Please wait !

The power of Respecting yourself as an Individual!

आत्म सम्मान
दूसरो से पहले खुद ही करें अपना सम्मान
अपने आत्म सम्मान, आराम और खुद की देख भाल की जरुरत को अनदेखा करके आप अपना बेहतरीन कैसे दे पाओगे? अपको सोचने की जरुरत है।
 यह जानना मुश्किल नहीं  है  कोई दूसरा व्यक्ति आपका सम्मान कर रहा है या नहीं लेकिन आप खुद का सम्मान कर रहें हैं या नहीं यह जानना उतना आसान नहीं है। आत्म सम्मान या सेल्फ रिस्पेक्ट किसी के लिए भी बहुत जरुरी है। अगर आप  चाहते हैं कि लोग आपका सम्मान करें तो इसकी पहली शर्त यह है कि आपको सबसे पहले अपना सम्मान करना होगा। स्वयं को सबसे पीछे  रखकर आप एक तरह से अपना ही अपमान करते हैं। आपको यह समझना होगा कि आप अनमोल हैं, आपके विचार महत्वपूर्ण हैं, आपकी भावनाएं बेमानी नहीं हैं। जितनी तव्ज्जो आपको दूसरों की  भावनाओं  को देनी है उतनी ही तब्ज्जो आपको अपनी भावनाओं को भी देनी है। याद रखें आपसे जुड़ी हर एक चीज महत्व रखती है। अगर अब  तक ऐसा नहीं हुआ है तो अब आपको अपने भीतर झांकना होगा और खुद को रोशनी में लाना होगा। ऐसे में कुछ  संकेत आपकी मदद कर सकते हैं और आप जान सकते हैं कि  आपके भीतर कितना सेल्फ रिस्पेक्ट है।
 

असहमति से डर कैसा?
हां कहना गलत नहीं है लेकिन हर बार और खासकर तब जब आप ना कहना चाहते हों, तब हां कहना गलत है। समय न होने की स्थिति में या गैर जरुरी चीजों के लिए भी हां कहकर आप खुद को ही मुश्किल में डाल देते हैं और खुद के लिए बचाए समय में कटौती कर देते हैं सो अलग। जरुरत होने पर ना जरुर कहें।
 

किसी को नाराज नहीं करना
 अलग- अलग पहलू पर हरेक की अपनी राय होती है लेकिन आप कभी  अपनी राय जाहिर नहीं करते । अलग होने पर भी आप अपने सोच को साझा नहीं करते तो यकीनन आपकी नजर में अपनी सोच महत्वपूर्ण नहीं है।
 

दूसरों की जरुरत को वरीयता देना  
कुछ दायित्व औा जिम्मेदारियां सभी के हिस्से में होती है लेकिन इन्हें निभाते - निभाते अगर आप खुद के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को लगातार नजर अंदाज करते रहेंगे तो नुकसान आपको झेलना पडे़गा।

 

दूसरों की खुशी सर्वोपरि रखना
 दूसरों को खुश रखने की मंशा  में बुराई कुछ भी नहीं है लेकिन आपके इस प्रयास के बदले आपको कुछ नहीं मिल रहा है तो समझ लीजिए  कि लोग आपका फायदा उठा रहे हैं। हमेशा दूसरों के खुशी के लिए कुछ करना अपने समय का सही निवेश नहीं है।
 

अच्छी संगत की कमी
दोस्त  अच्छे - बुरे समय के संगी होते हैं लेकिन अगर आपके दोस्तों में ऐसे दोस्त शामिल हैं, जो आपकी सराहना नहीं करते और नहीं आपकी मूल्यों और मान्यताओं से इत्तफाक रखते हैं तो निश्चित ही आपकी ओर से यह संकेत जाता है कि आप महत्वपूर्ण नहीं हैं और न ही यह महत्वपूर्ण है कि आप क्या बनना चाहते हैं। 

0 Comment

Sort by